दोस्तों, हर कोई खुश रहना चाहता है, ख़ुशी एक ऐसी फीलिंग है जिसे सभी लोग महसूस करना चाहते है। इसलिए आज हम आपको din bhar khush rahne ka tarika बताएँगे।

हर किसी की जिंदगी उतार चढाव से भरी होती है जिससे लोग निराश हो जाते है, और खुश रहना या मुस्कुराना भूल जाते है। लेकिन ये खुशी हमें दुखों से लड़ने में मदद करती है। जिसकी वजह से हम में confidence भी आ जाता है।

आज इस समय में कई सारे लोग है जो अपनी जिंदगी से नाखुश है। जो है उसमें संतुष्ट रहना चाहिए, ये लोग भूल चुके है। अपनी जिंदगी में हर कोई परेशानियों से गुजर रहा है लेकिन आज की इस busy दुनिया में कोई भी व्यक्ति अपने आप के लिए बहुत कम समय निकाल पाता है।

खुद के लिए और खुद की फैमिली के लिए समय निकालना ये एक अच्छे जिंदगी की निशानी है। क्या आपने कभी सोचा है की क्यों एक व्यक्ति हमेशा खुश रहता है? और क्यों के व्यक्ति हमेशा दुखे रहता है।

सबसे पहले तो आपका यह जानना जरूरी है की happiness यह एक state of mind है और खुश रहने के लिए आपके पास कुछ खास होना ही चाहिए ये जरूरी नहीं है। अगर आप भी खुश रहने का राज जानना चाहते है, तो इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़े।

खुश रहने का सबसे आसान तरीका

दोस्तों, सबसे पहले आप ये जान ले की happiness ये एक Mental state होती है। दुनिया के सभी लोग इस भ्रम में जी रहे है की ज्यादा पैसा यानी ज्यादा खुशी लेकिन यह एक गलत वाक्य है।

कोई गरीब व्यक्ति भी अपनी जिदंगी में खुश रह सकता है वही दूसरी ओर कोई अमीर व्यक्ति भी पैसे होकर दुखी हो सकता है। यह सब आपके मन का खेल है आप जैसे भी है जहा भी है उस समय में खुश रह सकते है।

क्योंकि खुश रहना अपने हाथ में है आप आपके पास जो भी है उससे संतुष्ट रहकर खुश रह सकते है। कुछ ऐसे लोग है जो हमे जिंदगी से संतुष्ट और खुश कैसे रहते है वह सीखते है। तो अब हम आपको खुश रहने के तरीके बताएंगे।

दिन भर खुश रहने का तरीका

दिन भर खुश रहने का तरीका

दोस्तों, जिंदगी में खुश रहने के लिए कुछ तरीके है जिनका इस्तेमाल आप कर सकते है। ज्यादातर लोग यह समझ नही पाते की वह दुखी क्यों है, आपको पहले अपनी situation को अच्छे से समझना है।

आप दुखी क्यों है?, क्या आपके साथ कोई बुरी घटना हुई है?, क्या आप किसी चीज को लेकर चिंतित है? इन बातों को आपको पहले समझना है। फिर जाकर आप इन सारे तरीको का इस्तेमाल कर सकते है। तो चलिए जानते है खुश रहने के लिए हमे क्या करना चाहिए ।

1. किसी से कोई expectations न रखे।

दोस्तों, लोग दुख में रहते है उसका पहला कारण है expectations यानी उम्मीद, लोगो से उम्मीद रखना ये सबसे बड़ी गलती है। काफी सारे लोग अपने आस पास के लोगो से उम्मीद रखते है और वो व्यक्ति हमारी उम्मीदों पर खरा ना उतरे, तो हम दुखी हो जाते है।

जैसे ये उम्मीद करना की हमारे दोस्त हमे बुलाए बैगर कही नही जायेंगे, अपने partner से किसी बात की उम्मीद करना और कही सारे चीजे happiness का obstacle होती है। आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना है की आप किसी से कोई उम्मीद न रखे।  

Expectations रखना कोई बुरी बात नहीं है, लेकिन जब आप किसी से expectations रखते है और वह आपकी expectations fulfil नहीं कर पाते तो आपको बहुत दुख होता है।  

इसलिए आपको सिर्फ उन लोगो से expectations रखना है जिन पर आपको भरोसा है। और जब आप किसी से कोई expectations नही रखते है, तब आप किसी भी बात की चिंता नही करते है। और आपके लिए बिना expectations के जीना बहुत आसान हो जाता है।

2. लोगो की चिंता न करे

दोस्तों, लोग क्या कहेंगे यह सबसे बड़ा जाल है जिसमे लोग फस जाते है। अगर आप सोसायटी के basis पर अपनी जिंदगी जीएंगे तो इसकी वजह से आपकी लाइफ पूरी तरह से खराब हो जायेगी।

कई सारे लोग अपने लिए कोई भी कदम नहीं उठाते और वह दुख का बड़ा कारण बन जाता है। इसलिए लोग क्या सोचेंगे इसकी चिंता आपको बिलकुल नहीं करनी है।

अगर आपको लगता है की आप जो कर रहे है वो सही है और इससे किसी को दुख नहीं होगा तो वो आपको जरुर करना चाहिए।लोग ज्यादातर इसलिए दुखी रहते है क्योंकि वह अपने मन की बात नही सुनते है और सोसायटी के डर से वो अपने लिए कुछ नही करते है।

इसलिए खुश रहने के लिए दूसरो की चिंता करना पूरी तरह से छोड़ दीजिए। जब आप दूसरो की चिंता करना छोड़ देंगे तो आपकी जिंदगी आपके कंट्रोल में होगी। इसलिए आपको अपनी लाइफ अपने basis पर जीनी चाहिए।

3. Ego और desire को अपने जीवन से निकाल दीजिए।

दोस्तों, Ego और desire ये दो चीजे व्यक्ति को पूरी तरह से arrogant बना देती है। एक बार गौतम बुद्ध को एक व्यक्ति ने आकर कहा की “मैं खुशी चाहता हूं” तब उन्होंने कहा की सबसे पहले वाक्य से ‘में’ निकाल दो में मतलब स्वार्थ जिसे ego कहा जाता है।

दूसरा अपने वाक्य से “चाहता हु” निकाल दो इसे desire मतलब इच्छा कहते है और फिर आपके पास सिर्फ “खुशी” बचेगी। इसका आसान अर्थ यही की व्यक्ति ego और desire से अपनी खुशी को मार देता है।  

लोग अपने लिए एक गोल डिसाइड करते है और सोचते है की जब में वो हासिल कर लूंगा में खुश हो जाऊंगा, लेकिन जब वो हासिल करते है उनको इतनी खुशी नहीं होती।

इसलिए आपको इस चीज का भी ध्यान रखना है की अपने लिए गोल रखना अच्छी बात है लेकिन यह सोचना की उसे हासिल करने के बाद में खुश हो जाऊंगा यह गलत है।

आपको अपनी हैप्पीनेस को रोक कर या फिर एक समय के बाद उसे allow नही करना है बल्कि आपको आपकी जीवनशैली में हैप्पीनेस को एडॉप्ट करना है।

4. खुश रहने के लिए हमें क्या करना चाहिए

  • खुद को समय दे।
  • किसी चीज को पर्सनली न ले।
  • किसी को अपनी हैप्पीनेस का कंट्रोल न दे।
  • अपना वातावरण और अपना फ्रेंड सर्कल अच्छा रखे।
  • हमेशा खुश रहे क्योंकि खुश रहना जीवन में बहुत जरूरी है।
  • अपनी Comparison दूसरों से ना करे।
  • हमेशा positive रहना सीखे
  • कल की चिंता न करे Present में जिए।
  • सुबह जल्दी उठे और व्यायाम करे।

Also Read:

हेल्दी रहने के लिए क्या खाना चाहिए 2022

[5 उपाय] डिप्रेशन का घरेलू इलाज

दूध में किशमिश खाने के फायदे

पतले होने के लिए क्या खाना चाहिए?

Conclusion:

दोस्तों, khush rehne ke liye kya kre? खुश रहना या दुखी रहना ये पूरी तरह हमारे उपर होता है। अगर हम अपने मन को खुश रखते है, तो हम भी दिन भर खुश रहे सकते है। Happiness ये एक state और यह एक habit भी है। इसलिए हमेशा मुस्कराहट बनाये रखे।

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल दिन भर खुश रहने का तरीका अच्छा लगा हो, तो इसे शेयर जरुर करे।

Thank You